Electrical Engineer Kaise Bane | Kya Karna Padta Hai

इलेक्ट्रिकल इंजीनियर कोण है , कैसे बनते है , क्या मिलता है , कितनी महेनत लगती है ,क्या क्वालिफिकेशन जरुरी है ऐ सरे सवालोंका जवाब में इस ब्लॉग में देने वाला हु। आये जानते है इसकी पूरी जानकारी। वर्त्तमान समय में युवा औ की दिलसस्पी इंजीनियरिंग फिल्ड में बहोत ज्यादा दिखे दे रही है। जैसे की civil engineer , software engineer , mechanical engineer , computer engineer , या electrical engineer , औ कई और engineering फिल्ड। कई पेरेंट अपने बच्चोको सिर्फ इंजीनियरिंग बनाना चाहते है। तो क्या वजह हो सकती है चलिए आजके इस ब्लॉग में हम बताते है।

इंजीनियरिंग फिल्ड में स्टुडंट और उनके माता पिता अधिक दिलसस्पी की कई वजह है जिसकी इस फिल्ड में जॉब आसानीसे मिल जाती है साथ ही मन सम्मान भी मिलता है। इसके आलावा इस फिल्ड में ठीक थक सेलेरी भी मिलती है। तो इसी वजह से स्टुडंट और उनके माता पिता की इंजीनियरिंग फिल्ड में ज्यादा दिलसस्पी है। इस ही लिए आज के यह ब्लॉग में हम बात करेंगे Electrical Engineer Kaise Bane और इसकी पूरी जानकारी।

इलेक्ट्रिकल इंजीनियर और उसके काम

इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग कोई साधारण पोस्ट नहीं है इस पोस्ट पर मौजूद व्यक्ति को मन सम्मान के साथ अछि सेलेरी भी मिलती है। सरकारी और प्रायवेट इलेक्ट्रिक विभाग में एल्क्ट्रिकल इंजीनियर का करियर अच्छा होता है। इसलिए कई स्टुडंट इलेक्ट्रिकल ेनिनीरिंग बनाने का सपना देखते है।

इन का काम बहोत ही जिम्मेदारी और जोखम भरा होता है। इसी लिए एक इलेक्ट्रिकल इंजीनियर को बहोत ही सावधानी से अपना काम करना पड़ता है। इलेक्ट्रिकल इंजीनियर इलेक्टिसिटी से संबधित सभी उपकरणों के कार्य करता है। इलेक्ट्रिसिटी के हर क्षेत्र में। इलेक्ट्रिकल इंजीनियर के काम अलग अलग होते है जैसे electronics , automotive , aerospace , telecomes , railway , power generation , oil and gas , और अन्य कई क्षेत्रों में इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियर काम करते है।

वर्तमान समय में बिना इलेक्ट्रिसिटी के कोई भी काम नहीं हो सकता छोटे मोठे सभी वस्तु इलेक्ट्रिसिटी पर चलते है। इसी लिए इन्हे सक्षम बनाने के लिए और इनपर नियंत्रण रखने के लिए इलेक्ट्रिकल इंजीनियर जरुरत पड़ती है। चलए जानते है इलेक्ट्रिकल इंजीनियर कैसे बनते है।

Electrical Engineer Kaise Bane?

अगर आप एक इलेक्ट्रिकल इंजीनियर बनना चाहते है तो १० क्लास के बाद polytechnic में एडमिशन लेना होगा। पॉलिटेक्निक से ३ साल का डिप्लोमा हासिल करना होगा। जब आप जूनियर इलेक्ट्रिकल इंजीनियर बैलेट है तो इसके बाद आपको सीनियर इंजीनियर बनने के लिए आप इलेक्ट्रिकल ब्रान्के से ३ साल का जिगरी कोर्स करसकते है जैसे की BE या Btech में। अगर आप १२ क्लास के बाद पोलटेक्निक में अड्मिशन लेते है तो ये कोर्स आपके लिए सिर्फ २ साल का होगा। इस कोर्स के बाद आप इलेक्ट्रिकल ब्रांच से ३ साल का डिग्री कोर्स कर सकते है। BE या BTech में। तो चलिए आगे जानते है की इलेक्ट्रिकल इंजीनियर के लिए किन नए क्षेत्रों में रोजगार के अवसर है।

Electrical Engineer के लिए नए क्षेत्रों में रोजगार के अवसर

हालही ही के दिनों में इलेक्ट्रिक इंजीनियरिंग क्षेत्रों में सेमीकंडक्टर , नेविगेशन सिस्टम , कंप्यूटर और डाटा एनालिसिस यह क्षेत्रों में तेजीसे यह फेल रही है । इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में रिसर्च करके आप अपना करियर बना सकते है। इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के ग्रजुएट के लिए इन्टीटूट और कम्पनी क्षेत्रों में निवेश करने के लिए रिसर्च कररही है। आगे जानते है की इलेक्ट्रिकल इंजीनियर के लिए क्या है जॉब के लिए सभावना ये।

इलेक्ट्रिकल इंजीनियर के लिए नौकरी की सभावना ये

इलेक्ट्रिकल इंजीनियर फेब्रीकेश प्लान की प्रयोग शालमे कॉरपरेट परामर्श कार्यालय में काम कर सकते है। उसके आलावा विद्युत उत्पादन , रेडियो , ट्रांसमिशन और वितरण विद्युत सर्किट डिजिटल, सिग्नल प्रोसेस्सर, माइक्रो कंट्रोलर , नेनो इलेक्ट्रॉनिक और अन्य कई फिल्ड में जॉब मिल सकती है।

हमारे देश में एक इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियर को सेलेरी करीबन ३०००० या ४०००० रुपए जितनी मिलती है। इतना ही नहीं जैसे जैसे उनका एक्सपीरिएंस बढ़ता जाता है उसकी सेलेरी भी बढ़ती जाती है। इसके आलावा विदेशो में भी एक इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियर को बहोत अच्छी सेलेरी मिलती है।

तो दोस्तों इस इनफार्मेशन के ब्लॉग के बारेमे आपकी क्या राय है हमें कमेंट बॉक्स में बताये। साथ ही में आपको और किसी अन्य टॉपिक की जानकारी चाहिए तो औ भी हमें बताये हम जरूर आपको इनफार्मेशन प्रोवाइड करेंगे।

Leave a Comment